ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाये

अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाये. यहां आपके ब्लॉग पर ट्रैफ़िक बढ़ाने के तरीके दिए गए हैं। हिंदी में पूरी गाइड।

1.ऑडियंस प्रोफ़ाइल(audience profile)

इससे पहले कि आप अपने ब्लॉग के लिए सामग्री(c0ntent) बनाना शुरू करें, अपने लक्षित दर्शकों(target audience)और वे क्या खोज रहे हैं, यह समझने में थोड़ा समय लगाना महत्वपूर्ण है।

आप निम्न प्रश्नों (following questions)के उत्तर देकर शीघ्रता से एक दर्शक ढांचा(audience framework) तैयार कर सकते हैं:

आपके टारगेट ऑडिएन्स कौन हैं?

वे किन समस्याओं का सामना कर रहे हैं जिनका समाधान करने में आप मदद कर सकते हैं?

वे किस प्रकार(type) की सामग्री(content) की तलाश में हैं?

इन सवालों के जवाब देने से आपको अपने लक्षित दर्शकों(target audience) की स्पष्ट तस्वीर(clearer picture)प्राप्त करने में मदद मिलेगी।

आप और भी व्यक्तिगत प्रश्न(personalized questions) जोड़कर इस पर विस्तार(expand) कर सकते हैं जैसे:

वे कितने साल के हैं?

उनका पेशा(occupations) क्या है?

उनका शिक्षा स्तर(education level) क्या है?

आपके ब्लॉग के विषय में उनकी विशेषज्ञता (expertise level) का स्तर क्या है?

इन ऑडियंस प्रोफाइल को ईकामर्स उद्योग में खरीदार व्यक्ति(buyer personas in the ecommerce industry) के रूप ( में भी जाना जाता है।

यदि आप एक ऑनलाइन स्टोर चलाते हैं, तो हम अत्यधिक अनुशंसा (highly recommended) करते हैं कि आप उदाहरणों और

टेम्पलेट्स के साथ एक खरीदार व्यक्तित्व ( buyer persona) बनाने के तरीके के बारे में इस विस्तृत मार्गदर्शिका (detailed guide)को देखें।

2.सामग्री रणनीति(content strategy)

ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाये

खोजशब्द अनुसंधान सामग्री निर्माताओं और एसईओ(SEO) विशेषज्ञों (experts) द्वारा उपयोग की जाने वाली एक तकनीक है।

यह आपको विशिष्ट शब्दों(specific words) और वाक्यों को खोजने में मदद करता है जो उपयोगकर्ता (users) Google

और अन्य खोज(search)इंजनों में टाइप करते हैं ताकि वे जिस सामग्री(content)को ढूंढ रहे हैं उसे ढूंढ सकें।

आम तौर पर, नौसिखिए(beginners) केवल सामग्री(c0ntent) बनाते समय अपने सर्वोत्तम अनुमानों(best guesses) पर भरोसा करते हैं। जैसा कि आप कल्पना कर सकते हैं, यह रणनीति(stategy) हिट या मिस(miss) है।

यदि आप “सर्वश्रेष्ठ-अनुमान”(best guess) रणनीति(strategy)का उपयोग करते हैं, तो इस बात की बहुत अधिक संभावना है

कि आपके लेख(article) खोज इंजन(search engine) में उच्च (high) रैंक नहीं देंगे।

केवल इसलिए कि कोई भी आपके द्वारा उपयोग किए गए खोजशब्दों (keywods) की तलाश नहीं कर रहा है,

या उन खोजशब्दों (keywords) के लिए बहुत अधिक प्रतिस्पर्धा(competition) है।

उचित खोजशब्द अनुसंधान(proper keyword research) करके, आप निम्नलिखित(following) लाभों को अनलॉक(unlock) करेंगे:

लोगों द्वारा खोजे जा रहे वास्तविक खोज(actual search) शब्द खोजें(discover) लोकप्रिय खोज (popular research) शब्दों के लिए अद्वितीय सामग्री(unique content) उपाय खोजें (discover).

अपने प्रतिस्पर्धियों(competitors) से सीखें और उन्हें बेहतर सामग्री(content) से हराएं अपने ब्लॉग पर स्थिर ट्रैफ़िक(steady traffic) लाने के लिए स्तंभ-लेखों(pillar-article) की एक श्रृंखला(series) बनाएँ |


अब सवाल यह है कि आप वास्तव में कीवर्ड रिसर्च कैसे करते हैं? सौभाग्य से(luckily), यह उतना कठिन नहीं है जितना आप सोचेंगे।

बहुत सारे मुफ़्त और सशुल्क(paid) खोजशब्द अनुसंधान उपकरण(keyword reasearch tools) हैं

जो मदद कर सकते हैं। हम अपनी सामग्री रणनीति(content strategy) के लिए SEMrush का उपयोग करते हैं।

आपको केवल एक कीवर्ड, एक प्रतिस्पर्धी( competitors) ब्लॉग/वेबसाइट URL, या अपने स्वयं के URL को दर्ज(enter) करना होगा

ताकि अधिक कीवर्ड उपाय( more keywords ideas) पता चल सकें।

3.एक संपादकीय(editorial) कैलेंडर बनाएं

ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाये

जब आप खोजशब्द अनुसंधान(keyword research) कर लेते हैं, तो आप बहुत से ब्लॉग पोस्ट विचारों(posts ideas) के साथ आने की संभावना(likely) रखते हैं

कभी-कभी, खोजशब्दों(keywords) की बड़ी सूची शुरुआती(beginners) लोगों को इस हद तक प्रभावित (overwhelm)कर सकती है कि वे बस हार मान लेते हैं।

यह सुनिश्चित(make sure) करने के लिए कि आपके साथ ऐसा न हो, हम एक संपादकीय कैलेंडर(editorial calender) (एक गेम प्लान) बनाने की सलाह देते हैं।

याद रखें, एक दिन में कोई बड़ा ब्लॉग नहीं बनाया गया था।

एक सफल ब्लॉग बनाने में समय और लगातार प्रयास(consist efforts) लगता है।

एक संपादकीय(editorial) कैलेंडर बनाने से आपको योजना बनाने और उस पर टिके रहने में मदद मिलेगी।

बहुत सारे उपयोगी(useful) उपकरण(tools) हैं जिनका उपयोग आप आसन और ट्रेलो जैसे कुछ नामों के लिए कर सकते हैं।

ये टूल सुविधाओं(features) के एक शक्तिशाली सेट के साथ आते हैं जो आपको अपने गेम में शीर्ष(top) पर बने रहने में मदद करेंगे।

लक्ष्य(goal) व्यवस्थित(organized) करना है, अपनी रणनीति(strategy) के बारे में एक विहंगम दृश्य( a bird’s view) बनाना और अधिक उत्पादक(productive) बनना है।

अपने संपादकीय कार्यप्रवाह(work flow) को अधिक कुशलता(efficiently)से प्रबंधित करने के लिए यहां कुछ और युक्तियां(tips) दी गई हैं।

अपने आप पर बहुत कठोर मत बनो। सप्ताह में दो लेखों(articles)से शुरुआत करें और जब भी संभव(possible)हो धीरे-धीरे अपनी गति(speed) बढ़ाएं।

अपने प्रकाशन कार्यक्रम के अनुरूप( be consistent)रहें। सुनिश्चित करें(make sure) कि आप अपने कैलेंडर का पालन(follow) करते हैं

और योजना के अनुसार नियमित सामग्री(regular content)प्रकाशित(published) करते हैं।

अपने कैलेंडर में नोट्स, कीवर्ड उपाय9keywords ideas) और रूपरेखा(outlines) जोड़ें। जब आप लिखने के लिए बैठते हैं

तो इससे आपको बेहतर गुणवत्ता(better quality)वाली सामग्री(content) तैयार करने में मदद मिलेगी।

अपने कैलेंडर ऐप को अधिक विज़ुअल(visual) और व्यवस्थित(organized) बनाने के लिए रंगों(c0lours), टैग(tags), श्रेणियों(categories)और अन्य सुविधाओं(features) का उपयोग करें।

4.व्यापक(comprehensive) और उपयोगी सामग्री(content) बनाएं

ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाये

एक ब्लॉग के लिए, सामग्री(content) का एक गुणवत्ता(quality) टुकड़ा आमतौर पर एक विशिष्ट विषय(specific topic) पर एक व्यापक लेख(comprehensive article) होता है |

जिसमें सभी विवरण(details0 शामिल होते हैं। यह इसे यूजर्स(users) के लिए बेहद मददगार बनाता है।

इन व्यापक लेखों(comprehensive articles) को “स्तंभ लेख(pillar articles)” के रूप में जाना जाता है।

अन्य विशेषज्ञ(experts) उन्हें प्रमुख सामग्री(flagship content) लेख के रूप में संदर्भित(refers)कर सकते हैं।

मूल(basically) रूप से, ये आपके सबसे महत्वपूर्ण लेख(articles) हैं। आपको सबसे होनहार(most promising) कीवर्ड चुनने की ज़रूरत है

और फिर एक लंबी-फ़ॉर्म(long-form) लेख(article) में जितनी जानकारी हो सके उतनी जानकारी प्रदान करें।

आपको अपने उद्योग(industry) के सभी महत्वपूर्ण कीवर्ड को कवर करने के लिए अधिक से अधिक स्तंभ लेख(pillar articles) बनाने चाहिए।

स्तंभ सामग्री(pillar content) बनाते समय आपको कुछ युक्तियों(tips) को ध्यान में रखना चाहिए:

स्तंभ सामग्री(pillar content) किसी भी प्रकार का लेख हो सकता है। उदाहरण के लिए,

एक कैसे-कैसे मार्गदर्शन(how to guide), ट्यूटोरियल(tutorials), तुलना लेख(comparison), राय टुकड़ा(opinion piece),

एक सूची(listicle), और इसी तरह(so on)। स्तंभ सामग्री(pillar content)और अन्य लेखों(others articles) के बीच का अंतर यह है |

कि आपके स्तंभ लेख(pillar articles) अधिक व्यापक(comprehensive) हैं

और विषय पर गहन(depth) जानकारी प्रदान करते हैं। आपके स्तंभ लेख(pillar articles) समय पर निर्भर नहीं हैं। वे सदाबहार(evergreen) और हमेशा उपयोगी होते हैं।

हालांकि हम खोज परिणामों(search results) में शीर्ष(tops)पर बने रहने के लिए उन्हें नई जानकारी से अपडेट रखने की सलाह देते हैं।

हम इस लेख(article) में बाद में और युक्तियों(tips) को शामिल करेंगे |

जो आपको खोज इंजन(search engines) से अधिक ट्रैफ़िक प्राप्त करने के लिए उच्च गुणवत्ता(high quality) वाले स्तंभ लेख(pillar articles) बनाने में मदद करेंगे।

5.अपनी सामग्री(content) को पठनीय(readable) बनाएं

ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाये

जैसा कि हमने पहले उल्लेख(mentioned) किया है, खोज इंजन(search engines) और उपयोगकर्ता(users) लंबे और व्यापक लेख(comprehensive articles) पसंद करते हैं

जो उन्हें आवश्यक सभी जानकारी प्रदान करते हैं

अब समस्या यह है कि मनुष्य का ध्यान अवधि(attention spam) कम होती है।

पढ़ने या समझने में थोड़ी सी कठिनाई आपके उपयोगकर्ताओं(users) को बंद कर देगी, और वे आपके द्वारा दी गई सभी उपयोगी जानकारी को देखे बिना चले जाएंगे।

ऐसा होने से पहले इस समस्या को हल करने के लिए, आपको अपनी सभी सामग्री(content) को पढ़ने में आसान बनाने की आवश्यकता है।

शुरू करने के लिए एक अच्छी जगह एक दोस्ताना स्वर और बहुत सारे दृश्यों का उपयोग करके अपने लेख को काटने के आकार के वाक्यों में प्रस्तुत करना होगा।

आपकी सामग्री को अधिक पठनीय और उपयोगकर्ता के अनुकूल बनाने के लिए बस कुछ बुनियादी युक्तियाँ निम्नलिखित हैं।

छोटे वाक्यों(sentences) और अनुच्छेदों(paragraphs) का प्रयोग करें। यह टेक्स्ट(text) के चारों ओर बहुत सारी सफेद जगह छोड़ देता है

जिससे इसे देखना और पढ़ना आसान हो जाता है।

अधिक पठनीय फोंट(readable fonts), बड़े फ़ॉन्ट-आकार(long font-size), और बहुत सी पंक्ति रिक्ति(line spacing) का उपयोग करके टाइपोग्राफी में सुधार करने का प्रयास करें।

अपनी सामग्री(content) के पठनीयता(readability) स्कोर की जाँच करें। Yoast SEO उसके लिए एक बिल्ट-इन टूल के साथ आता है,

आप कई अन्य ऑनलाइन पठनीयता(readability) चेकर्स(checkers) भी पा सकते हैं

व्याकरण परीक्षक(grammar checker) का प्रयोग करें। हम व्याकरण(Grammarly)का उपयोग करने की सलाह देते हैं,

यह न केवल व्याकरण(grammar)की जांच(check) करता है बल्कि वास्तव(actually) में आपको बेहतर लिखने में मदद करता है।

छवियों(image), स्क्रीनशॉट, वीडियो, इन्फोग्राफिक्स और अन्य दृश्य(visual) तत्वों(elements)का उपयोग करें।

ये मीडिया तत्व(elements) आपके लेख को अत्यधिक आकर्षक(highly engaging) और पढ़ने में आसान बनाते हैं।

6.अपनी वेबसाइट पर SEO की मूल(basics) बातें सीखें और लागू(apply) करें

जो आपकी वेबसाइट को और अधिक खोज इंजन(search engines) अनुकूल(friendly) बनाने में आपकी सहायता करता है।

ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाये

आम धारणा(popular belief) के विपरीत(contrary), कोई भी किसी विशेषज्ञ(expert) को काम पर रखे बिना अपनी वेबसाइटों के लिए एसईओ(SEO) कर सकता है।

बहुत सारे SEO टूल और प्लगइन्स, मुफ्त सलाह और स्टेप बाय स्टेप ट्यूटोरियल(tutorials) उपलब्ध हैं जिनका आप उपयोग कर सकते हैं।

हम सभी वर्डप्रेस वेबसाइटों के लिए ऑल इन वन(all in one) एसईओ प्लगइन(SEO plugin) का उपयोग करने की सलाह देते हैं।

यह सबसे व्यापक(comprehensive) SEO और वेबसाइट ऑप्टिमाइजेशन टूल है।

मुफ़्त संस्करण(free version) में वे सभी SEO सुविधाएँ शामिल हैं जिनकी आपको अपनी वेबसाइट पर आवश्यकता होगी।

7.ग्रेट हेडलाइंस लिखना सीखें

 ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाये
ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाये

जब उपयोगकर्ता(users) आपकी सामग्री(content) को खोज(search) परिणामों(results)

या RSS फ़ीड्स में ढूंढते हैं, तो वे सबसे पहले आपके लेख(article) का शीर्षक(headline) देखते हैं।

एक आकर्षक(catchy) ब्लॉग पोस्ट शीर्षक(heading) सबसे अलग दिखता है और अधिक क्लिक प्राप्त करता है। जबकि एक सादे और

उबाऊ(boring) शीर्षक(heading) को नजरअंदाज कर दिया जाता है, और उपयोगकर्ताओं(users) द्वारा इसे स्क्रॉल करने की संभावना होती है।

यह सुर्खियों(headlines) को बहुत महत्वपूर्ण बनाता है।

आपको अपने ब्लॉग पोस्ट के लिए बेहतर शीर्षक(headline) लिखना सीखना होगा जो उपयोगकर्ता(users) का ध्यान आकर्षित(capture) करते हैं और अधिक क्लिक प्राप्त करते हैं।

सौभाग्य से(luckily), ब्लॉगिंग विशेषज्ञ(experts) बहुत लंबे समय से सुर्खियों(headlines) पर शोध(reasearch) कर रहे हैं, और आप उनके निष्कर्षों(findings) से लाभ उठा सकते हैं।

ये एक प्रभावी शीर्षक(headlines) के बुनियादी निर्माण खंड( basic building blocks)हैं:

एक अच्छा शीर्षक(headline) भावनात्मक प्रतिक्रिया(emotional response) (खुशी, आश्चर्य, सदमा, जिज्ञासा, भय, उत्तेजना, लालच, और इसी तरह) को ट्रिगर करता है।

यह उपयोगकर्ताओं(users) को एक इनाम(reward)और मूल्य(value)प्रदान करता है| यह लक्षित खोजशब्दों(target keywords) को शामिल करके सामग्री(content) को बढ़ावा देता है

कॉपीराइटर भावनात्मक प्रतिक्रियाओं(emotional response) को ट्रिगर करने के लिए शक्ति शब्दों(power words) का उपयोग करते हैं। वे उपयोगकर्ताओं(users) को बताते हैं

कि लेख(article) मूल्यवान(valuable) क्यों है या शीर्षक(heading) पर क्लिक करने से उन्हें क्या मिलेगा।

अंत में, एक अच्छे शीर्षक(heading) में उपयोगकर्ताओं(users) के लिए कॉल टू एक्शन शामिल होता है जो अक्सर सूक्ष्म(subtle)

और कभी-कभी निहित(implied) होता है।

अधिक जानने के लिए, हम अनुशंसा करते हैं कि आप इन सुर्खियों9(headlines) को देखें जो वायरल हो गईं और आप उनसे क्या सीख सकते हैं।

बेहतर हेडलाइन बनाने में मदद के लिए आप निम्नलिखित(following) मुफ़्त (free) हेडलाइन एनालाइज़र टूल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं:

OptinMonster Headline Analyzer
MonsterInsights Headline Analyzer
EMV Headline Analyzer

8.इंटरनल लिंकिंग को रूटीन टास्क बनाएं

ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाये

अब जब आपने अच्छी सामग्री(content) बनाना शुरू कर दिया है, तो अपने मौजूदा ब्लॉग पोस्ट से अपने लेखों(articles) को लिंक करना महत्वपूर्ण है।

इसे इंटरनल लिंकिंग कहा जाता है, और यह SEO में बहुत बड़ी भूमिका(role) निभाता है

यहां बताया गया है कि इंटरनल लिंकिंग इतना महत्वपूर्ण क्यों है:

आंतरिक लिंक(internal links) आपकी वेबसाइट पर विभिन्न लेखों(different articles) के बीच के संदर्भ(context)

और संबंधों(relationships) को समझने में Google की सहायता करते हैं।

यह तब इस जानकारी को रैंकिंग संकेतों(ranking signals) के रूप में उपयोग करता है।

आंतरिक लिंक(internal links), जब रणनीतिक(strategically) और संदर्भ(context) में रखे जाते हैं,

तो आपको पृष्ठ दृश्य(page views) बढ़ाने और बाउंस दर(bounce rate) कम करने में मदद मिल सकती है।

तृतीय-पक्ष(third-party) वेबसाइटों को आपके लेखों(articles) से लिंक करने के लिए कहना कठिन है। अपनी साइट पर लिंक बनाना बहुत आसान है।
हम अनुशंसा(recommend) करते हैं कि अपने पुराने लेखों(articles) को अपने नए लेखों से जोड़ने की आदत(habit) डालें।

क्योंकि आंतरिक लिंक(internal link) SEO में इतनी महत्वपूर्ण भूमिका(role) निभाते हैं|

9.अधिक बैकलिंक्स बनाना शुरू करें

एक बैकलिंक एक बाहरी वेबसाइट से आपकी सामग्री(content) के लिए आने वाला लिंक है। Google की रैंकिंग में बैकलिंक्स सबसे प्रभावशाली संकेतों(signals) में से एक है।

प्रतिष्ठित(reputable) वेबसाइटों और ब्लॉगों से बैकलिंक्स प्राप्त करना बहुत कठिन है। न केवल शुरुआती(beginners) लोगों के लिए,

यहां तक ​​​​कि अनुभवी(experienced) ब्लॉगर भी इससे जूझते हैं।

अपनी वेबसाइट पर गुणवत्तापूर्ण(quality) बैकलिंक्स प्राप्त करने के लिए यहां कुछ सुझाव(tips) दिए गए हैं:

अपने उद्योग(industry) में प्रभावशाली(influencers) लोगों और प्रतिष्ठित(reputable) ब्लॉगों तक पहुंचें,

और फिर उन्हें अपनी वेबसाइट पर विशिष्ट सामग्री(specific content) के बारे में बताएं,

जिसे वे लिंक करना चाहते हैं।दूसरे ब्लॉग और वेबसाइट पर गेस्ट पोस्ट लिखें।

अपने ब्लॉग पर प्रभावशाली(influencers) लोगों और ब्लॉगर्स का साक्षात्कार(interview) लें। वे संभवत(likely):

अपने उपयोगकर्ताओं(users) को उनके साक्षात्कार(interview) को चेकआउट करने के लिए बताना चाहेंगे,

और आपको एक बैकलिंक मिलेगा। बैकलिंक प्राप्त करने का सबसे आसान तरीका है कि आप अपने सभी सोशल मीडिया प्रोफाइल पर अपनी वेबसाइट का लिंक जोड़ें

10.आकर्षक छवियों(images) का प्रयोग करें

ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाये
ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाये
दिखने में आकर्षक सामग्री(attractive content) बनाने के लिए चित्र(image), चार्ट(charts), इन्फोग्राफ(Info graphs) जोड़ें
छवियों(images) का प्रयोग करें

चूंकि दृश्य तत्व(visuals elements) बहुत महत्वपूर्ण हैं, हम मानते हैं कि वे इस सूची में अपना स्थान पाने के योग्य हैं।

मनुष्य के रूप में, हमारा मस्तिष्क(brain) दृश्य तत्वों (visual elements)को प्राथमिकता देता है। हम रंगों और वस्तुओं से प्यार करते हैं

क्योंकि सौंदर्यशास्त्र(aesthetic) हमारे दिमाग में भावनात्मक प्रतिक्रियाओं(emotional response) को ट्रिगर करता है।

यह हमें अपने परिवेश(surrounding) में अधिक व्यस्त(engaged) और तल्लीन(immersed) बनाता है।

लोग इन्फोग्राफिक्स को देखना पसंद करते हैं क्योंकि वे जानकारी को आकर्षक(attractive) और उपभोग(use) करने में आसान बनाते हैं।

आपके ब्लॉग पोस्ट की छवियां(images) उपयोगकर्ता(users) का ध्यान खींचती हैं और उन्हें न केवल दृश्य तत्व(visual element)पर बल्कि

इसके आसपास के पाठ(text) पर भी ध्यान केंद्रित(grab) करने में मदद करती हैं।

यदि आप अभी शुरुआत कर रहे हैं, तो यह जानना महत्वपूर्ण है कि आप इंटरनेट पर दिखाई देने वाली किसी भी छवि(image) का उपयोग नहीं कर सकते हैं।

छवियां(image) कॉपीराइट द्वारा सुरक्षित हैं और कॉपीराइट सामग्री(content) की चोरी के गंभीर परिणाम(serious consequences) हो सकते हैं।

आदर्श(ideally) रूप से, आप अपनी खुद की छवियों(image), ग्राफिक्स और तस्वीरों(photographs) का उपयोग करना चाहते हैं,

लेकिन सभी ब्लॉगर ग्राफिक डिजाइनर या फोटोग्राफर नहीं हैं।

सौभाग्य(luckily) से, रॉयल्टी मुक्त छवियों(image) को खोजने के लिए बहुत सारे महान संसाधन(resources) हैं, और ऐसे उपकरण(tools) भी हैं

जिनका उपयोग आप आसानी से अपने स्वयं(own) के ग्राफिक्स बनाने के लिए कर सकते हैं।

11.उपयोगकर्ता-जनित सामग्री का उपयोग करें(utilize user-generated content)

यह सामग्री(content) मूल रूप(basically) से उपयोगकर्ता गतिविधि(user activity) के परिणामस्वरूप(result) आपकी वेबसाइट पर उत्पन्न(generate) कोई भी सामग्री(content) है।

इसमें टिप्पणियां(comments), प्रशंसापत्र, अतिथि पोस्ट(guest posts), उपयोगकर्ता समीक्षाएं(user reviews) और बहुत कुछ शामिल हैं।

उपयोगकर्ता-जनित(user-generater) सामग्री आपको अपनी वेबसाइट पर अधिक ट्रैफ़िक लाने में मदद करती है |

क्योंकि यह उपयोगकर्ताओं(users) को भाग लेने और शामिल होने के कई अवसर(opportunities) देती है।

जब उपयोगकर्ता(user) आपकी वेबसाइट पर अधिक समय बिताते हैं, तो उनके वापस लौटने, साझा(share) करने और

यहां तक ​​कि आपकी वेबसाइट से खरीदारी करने की अधिक संभावना होती है।

कई अलग-अलग प्रकार की उपयोगकर्ता-जनित(users-generator’s)सामग्री(content) हैं जिन्हें आप जोड़ सकते हैं।

आपको यह चुनने की ज़रूरत है कि आपके ब्लॉग के लिए सबसे अच्छा क्या काम करता है और वहीं से शुरू करें।

12.अपने लेखों(articles) में वीडियो जोड़ें

वीडियो इंटरनेट पर सामग्री(content) का सबसे सफल रूप है। उपयोगकर्ता(users) केवल टेक्स्ट(text) और छवियों(image) की तुलना में वीडियो वाले

ब्लॉग पोस्ट पर अधिक समय व्यतीत(spend) करते हैं

वर्डप्रेस में अपने लेखों में वीडियो जोड़ना बहुत आसान है। हालाँकि, आपको कभी भी वर्डप्रेस पर वीडियो अपलोड नहीं करना चाहिए

क्योंकि यह वीडियो स्ट्रीम करने के लिए अनुकूलित(optimized) नहीं है।

आपके वर्डप्रेस होस्टिंग सर्वर पर होस्ट किया गया एक वीडियो बहुत अधिक संसाधन(resources) लेगा, और उपयोगकर्ता(users) अनुभव भयानक होगा।

अपनी वर्डप्रेस साइट पर वीडियो जोड़ने का सबसे अच्छा तरीका उन्हें YouTube पर अपलोड करना और फिर उन्हें अपने ब्लॉग पोस्ट में एम्बेड(embedding) करना है।

यह आपको और भी अधिक एक्सपोजर देता है क्योंकि YouTube स्वयं(itself) दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा सर्च इंजन है,

और एक लोकप्रिय सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म है।

आपकी वेबसाइट के लिए आसानी से वीडियो सामग्री(content) बनाने के कई तरीके हैं। यहां कुछ ऐसे हैं जिनसे आप शुरुआत कर सकते हैं:

आप वॉयस ओवर(voice over)निर्देशों(instructions)के साथ ट्यूटोरियल(tutorial) कैसे बनाएं, इसका स्लाइडशो बना सकते हैं
आप स्क्रीनकास्ट बना सकते हैं

अपने उद्योग(industry) में अन्य ब्लॉगर्स और प्रभावितों(influencers)के साथ साक्षात्कार(interview) रिकॉर्ड करें

सेल्फ़ी मोड में शूट किए गए अपने स्वयं(own) के वीडियो जोड़कर व्लॉगर बनें

वीडियो संपादन(editing) के लिए, यदि आप मैक(Mac) का उपयोग कर रहे हैं, तो iMovie बुनियादी(basic) वीडियो संपादन(editing) करने में पूरी तरह से सक्षम(capable) है।

विंडोज यूजर्स बेसिक एडिटिंग के लिए लाइटवर्क्स(lightworks) या शॉटकट(shortcut) जैसे फ्री वीडियो एडिटिंग सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

13.अपने पेजों को तेज़ी से लोड करने के लिए वेबसाइट स्पीड को ऑप्टिमाइज़ करें

इस युग में, कोई भी वेबसाइट लोड होने की प्रतीक्षा(wait) नहीं करना चाहता। यदि आपकी वेबसाइट धीमी(slow) है,

तो उपयोगकर्ता(users) आपकी वेबसाइट को लोड होने से पहले ही छोड़ देंगे।

Google जैसे खोज इंजन(search engines)भी वेबसाइट की गति(speed) और पृष्ठ(page) लोड समय को महत्वपूर्ण रैंकिंग कारकों(factors) में से एक मानते हैं।

यह सुनिश्चित(make sure) करने के लिए कि आपकी वेबसाइट तेजी से लोड होती है, आपको अपने वर्डप्रेस प्रदर्शन(performance) को अनुकूलित(optimize) करने की आवश्यकता है।

इसका मतलब है कि आपको catching का उपयोग करने, अनावश्यक(unnecessary) ब्लोट से बचने और

अपनी छवियों(images) को अनुकूलित(optimization) करने की आवश्यकता है।

14.अपनी वेबसाइट के डिजाइन को साफ और अव्यवस्था मुक्त(clutter free) रखें

बाजार में बहुत सारे बेहतरीन वर्डप्रेस थीम(theme) उपलब्ध हैं। समस्या यह है कि कई शुरुआती(beginners) सभी घंटियों और सीटी के साथ

एक थीम का उपयोग करना चाहते हैं। ये थीम हमेशा आपकी वेबसाइट के लिए सही डिज़ाइन नहीं होती हैं।

खराब वेबसाइट डिज़ाइन आपके उपयोगकर्ताओं(users) को आपके ब्लॉग पर अधिक समय बिताने से रोकता है जिससे आपके पृष्ठदृश्य9page views) कम हो जाते हैं।

जबकि एक अच्छा डिज़ाइन उन्हें अधिक सामग्री(content) खोजने, विभिन्न अनुभागों(different sections)को एक्सप्लोर करने और अधिक समय बिताने में मदद करता है।

कई बार यूजर्स हमसे पूछते हैं कि बेस्ट थीम का चुनाव कैसे करें? हमारा उत्तर हमेशा सरलता के लिए प्रयास करना है।(strive for simplicity)

एक सरल, साफ और कार्यात्मक(functional) थीम एक अच्छा पहला प्रभाव(first impression) डालती है और सर्वोत्तम(best) उपयोगकर्ता(users) अनुभव प्रदान करती है।

15.तुरंत अपनी ईमेल सूची(list) शुरू करें

ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाये

अधिकांश शुरुआती(most beginners) अपना बहुत अधिक समय नए उपयोगकर्ताओं(users) को अपनी वेबसाइट पर लाने में लगाते हैं।

हालांकि, आपकी वेबसाइट छोड़ने वाले 70% से अधिक उपयोगकर्ता(users) कभी वापस नहीं आएंगे।

अपने ब्लॉग ट्रैफ़िक को बढ़ाने की तरकीब न केवल नए विज़िटर प्राप्त करना है, बल्कि आपको मौजूदा विज़िटर को वापस आने की भी आवश्यकता है।

आप कैसे सुनिश्चित(make sure) करते हैं कि उपयोगकर्ता(users) आपकी वेबसाइट पर वापस आएं?

आप उन्हें अपने ब्लॉग की सदस्यता(subscribe) लेने के लिए कहकर ऐसा करते हैं।

उपयोगकर्ता(users) आपकी वेबसाइट के सोशल मीडिया प्रोफाइल की सदस्यता(subscribe) ले सकते हैं। हालांकि, अधिकांश सामाजिक(social) नेटवर्क आपकी पहुंच को सीमित करते हैं,

और आपके उपयोगकर्ता(users) केवल आपकी कुछ सामग्री(content) देख सकते हैं।

यही कारण(reason) है कि आपको अपनी ईमेल सूची बनाना शुरू करना होगा।

आपकी ईमेल सूची(list) की सबसे अच्छी बात यह है कि आप इसके स्वामी(you own it) हैं। कोई भी आपकी पहुंच(reach) को सीमित(limit) नहीं कर सकता है,

और आपको अपने उपयोगकर्ता(users) के इनबॉक्स तक सीधी पहुंच प्राप्त(direct access) होती है।

ईमेल मार्केटिंग आपके निपटान(disposal) में सबसे अधिक लागत प्रभावी(cost-efficient) और अत्यधिक प्रभावी(highly-effective) मार्केटिंग टूल(tool) है।

आप ईमेल सूची(list) के बिना हर दिन संभावित ग्राहकों9potential subscribers) को खो रहे हैं।

16.अपने पुराने लेखों को सोशल मीडिया पर नियमित(regularly) रूप से साझा(share) करें

यदि आप अधिकांश(most) ब्लॉगों को पसंद करते हैं, तो आप शायद एक दिन में केवल एक लेख(article) प्रकाशित(publish)करते हैं,

इसका मतलब है कि शेष(rest) दिन के लिए, सोशल मीडिया पर आपकी ओर से कोई अपडेट नहीं है।

ट्विटर जैसे प्लेटफॉर्म पर, आपका ट्वीट जल्द ही गायब हो जाएगा, और आपके उपयोगकर्ता(users) शायद इसे देख भी नहीं पाएंगे।

क्या यह अच्छा नहीं होगा यदि आप पूरे दिन नियमित अंतराल(regular intervals) पर अपनी पुरानी सामग्री(content) को स्वचालित रूप से साझा(share automatically) कर सकें?

यह आपकी दृश्यता(visibility) को बढ़ाकर और आपके प्रोफाइल को अधिक सक्रिय(active) रखकर आपको सोशल मीडिया से अधिक ट्रैफ़िक प्राप्त करने में मदद करेगा।

आप इसे Buffer and Revive old posts जैसे टूल के साथ स्वचालित कर सकते हैं।

Bufferके साथ, आपको अपने अपडेट मैन्युअल रूप से थोक-अपलोड(bulk-upload) करने होंगे। दूसरी ओर, पुराने पोस्ट को पुनर्जीवित(revive) करें

आपको अपने स्वयं के पुराने लेखों(articles) को स्वचालित रूप से साझा(share) करने की अनुमति देगा।

17.अपने ब्लॉग पोस्ट को स्वचालित(automatically) रूप से साझा(share)करें

जब हम इस बात पर जोर देते हैं कि आपको एक ईमेल सूची(list) बनानी चाहिए, तो हमारा मतलब यह नहीं है

कि आपको सोशल मीडिया का अनुसरण(social media following) करना बंद कर देना चाहिए।

इसके बिल्कुल विपरीत(opposite), वास्तव में, हम चाहते हैं कि आप सभी महत्वपूर्ण सोशल प्लेटफॉर्म पर एक सोशल मीडिया का निर्माण(social media following) जारी रखें,

और यहां तक ​​​​कि नए आला(niche) प्लेटफॉर्म भी खोजें, जिन्हें आप एक्सप्लोर कर सकें।

सोशल मीडिया वेबसाइटों के साथ समस्या यह है कि आपको अपने प्रोफाइल को सक्रिय(active) रखने और

अपने ब्लॉग पर ट्रैफ़िक लाने के लिए नियमित(regularly) रूप से सामग्री(content) पोस्ट करनी होगी।

यदि आप इसे मैन्युअल रूप से करते हैं, तो आप जल्द ही सामग्री(content) साझा(share) करने में काफी समय व्यतीत(spend) करेंगे।

यह वह जगह है जहां Uncanny Automator आता है। यह एक प्लगइन है जो आपको वर्डप्रेस में स्वचालित(automatically) वर्कफ़्लो बनाने की अनुमति देता है।

18.अन्य सामाजिक(social) नेटवर्क का अन्वेषण(explore) करें

वहाँ बहुत सारी सोशल मीडिया वेबसाइटें हैं, लेकिन हम में से अधिकांश(more) अपना सारा समय फेसबुक और ट्विटर जैसे कुछ शीर्ष9tops) प्लेटफार्मों पर बिताते हैं।

जाहिर है, आप अपने ब्लॉग पर अधिक ट्रैफ़िक लाने के लिए उन पर ध्यान केंद्रित(focus) करना चाहते हैं।

हालाँकि, आपके ब्लॉग के विषयों के आधार पर आपको कम भीड़ वाले अन्य सामाजिक(social) प्लेटफार्मों पर अधिक सफलता मिल सकती है।

उदाहरण के लिए, यदि आपका ब्लॉग व्यवसायों के निर्माण(building business) के बारे में है, तो आपको लिंक्डइन पर अधिक व्यस्त(engaged)उपयोगकर्ता(users) मिल सकते हैं।

अगर आप लाइफस्टाइल या फैशन ब्लॉग चलाते हैं, तो इंस्टाग्राम वह प्लेटफॉर्म हो सकता है जिस पर आपको ध्यान देना चाहिए।

आप उपयोगकर्ता(users) के सवालों के जवाब देने के लिए हमेशा Quora पर समय बिता सकते हैं जो बैकलिंक्स बनाते हैं और ब्लॉग ट्रैफ़िक बढ़ाने में मदद करते हैं।

हम अनुशंसा(recommend) करते हैं कि आप बड़े दो के अलावा अन्य सामाजिक नेटवर्क पर अधिक समय बिताने का प्रयास करें।

आपको वहां अधिक भावुक दर्शक(passionate audience) और एक बड़ा अनुयायी(bigger following) मिल सकता है।

19.ऑनलाइन समुदायों(groups)में भाग लें

मुख्य रूप से ट्रैफ़िक का एक बड़ा स्रोत(source) हैं क्योंकि उनके पास पहले से ही ऐसे उपयोगकर्ता(users) हैं जो उन विषयों में रुचि(interest) रखते हैं जिन पर आप अपने ब्लॉग पर चर्चा कर रहे हैं।

आप रेडिट, लिंक्डइन समूहों(groups), फेसबुक, यूट्यूब और अन्य पर छोटे समुदायों(groups) को ढूंढ सकते हैं।

प्रो टिप: अपने लेखों(article)के लिंक पोस्ट करना शुरू न करें। इसे स्पैमिंग कहा जाता है और मॉडरेटर आपको तुरंत ब्लॉक कर देंगे।

आपको प्रतिष्ठा(reputation) बनाने, सवालों के जवाब देने, चर्चाओं(discussions) में शामिल होने में कुछ समय बिताना चाहिए,

और उसके बाद ही उचित होने पर ही अपनी वेबसाइट साझा(share) करें।

20.प्रश्नोत्तर वेबसाइटों में भाग लें

आपने देखा होगा कि कभी-कभी स्टैक एक्सचेंज, क्वोरा, या ट्रिपएडवाइजर जैसी वेबसाइटों के वर्षों पुराने उत्तर अभी भी खोज परिणामों में अधिक स्थापित(outrank) ब्लॉगों से आगे निकल जाते हैं।

प्रश्न और उत्तर(Q&A) वेबसाइट इंटरनेट पर सबसे बड़े ऑनलाइन समुदायों(groups) में से एक हैं।

इन प्लेटफॉर्म पर सवालों के जवाब देने का फायदा यह है कि आपका जवाब बहुत लंबे समय तक लाइव रहेगा जिसका मतलब है |

कि यह आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक का एक नियमित स्रोत(regular sources) बन सकता है।

एक बार फिर, हम आपको केवल अपने लिंक पोस्ट करने के लिए वहां जाने की अनुशंसा(recommend) नहीं करेंगे। इसके बजाय,

आपको अपने ब्लॉग पोस्ट के लिंक के साथ वास्तविक विस्तृत (actual detailed)उत्तर तभी लिखना चाहिए जब वे संदर्भ(context) में फिट हों।

21.सोशल मीडिया पर प्रभावशाली(influencers) लोगों को ढूंढें और उनसे जुड़ें

इन्फ्लुएंसर आपके ब्लॉग को बढ़ावा देने में आपकी मदद कर सकते हैं और आपकी वेबसाइट के ट्रैफ़िक को महत्वपूर्ण रूप से बढ़ा सकते हैं।

हालाँकि, समस्या यह है कि अधिकांश प्रभावशाली(most influencers) लोगों को पहले से ही बहुत सारे संदेश(messages) मिलते हैं।

चूंकि आप एक नए ब्लॉगर हैं, इसलिए वे मानते हैं कि आपके पास बदले में उन्हें देने के लिए शायद कुछ भी नहीं है।

तो आप एक प्रभावशाली(influencers) व्यक्ति का ध्यान कैसे आकर्षित(attract) करते हैं? इससे भी महत्वपूर्ण बात यह है

कि आप उन्हें अपने ब्लॉग को बढ़ावा देने के लिए कैसे प्राप्त करते हैं?

सबसे पहले, आपको उनके साथ सोशल मीडिया पर बातचीत शुरू करने की आवश्यकता है।

इसके बाद, उनकी सामग्री(content) को अपनी टिप्पणी(commentary) के साथ साझा(share)करें, उनके धागों(threads) का उत्तर दें,

उनके ब्लॉग पोस्ट पर टिप्पणियां(comments) छोड़ें।

सुनिश्चित करें(make sure) कि आपकी प्रत्येक बातचीत(interaction) उनकी चर्चा में मूल्य(value) जोड़ती है।

जब उपयोगकर्ता(users) उनके प्रयासों की सराहना(appreciated) करते हैं तो इन्फ्लुएंसर इसे पसंद करते हैं। वे आपको नोटिस करेंगे और याद रखेंगे।

एक बार जब आप संबंध स्थापित(established) कर लेते हैं, तो आप सलाह देने के लिए उनसे संपर्क कर सकते हैं।

यह बहुत काम की तरह लगता है, लेकिन यह आपको जीवन भर की दोस्ती बनाने में मदद करता है जो पारस्परिक(mutually) रूप से लाभदायक हैं।

22.सोशल मीडिया की निगरानी(monitor) करें

लोग ट्विटर जैसी सोशल मीडिया वेबसाइट्स पर आए दिन सवाल पूछ रहे हैं. सोशल मीडिया पर कीवर्ड की निगरानी(monitor) के लिए अलर्ट सेट करें

और फिर अपनी वेबसाइट पर प्रासंगिक लेख(relevant articles)के लिंक के साथ उनके सवालों के जवाब देने के लिए बातचीत में कूदें।

आप अपने ब्रांड नाम, लिंक, बातचीत आदि के लिए सोशल मीडिया वेबसाइटों की निगरानी(monitor) भी कर सकते हैं।

इसके लिए आप बहुत सारे टूल्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।

23.अपनी वेबसाइट की कीवर्ड रैंकिंग ट्रैक करें

आपके द्वारा सामग्री(content) बनाना और उसका प्रचार(promoting) करना शुरू करने के बाद, आपको यह ट्रैक करना होगा कि

प्रत्येक टुकड़ा (each piece)सामग्री(content) कितना अच्छा प्रदर्शन(performing) कर रही है।

इसके अलावा, यह किस कीवर्ड के लिए रैंकिंग कर रहा है।

आप इसे Google Search Console टूल से कर सकते हैं। यह Google द्वारा प्रदान किया गया एक निःशुल्क टूल(free-tool) है जो आपको यह देखने में सहायता करता है

कि आपकी वेबसाइट Google search में कैसा प्रदर्शन कर रही है। हमारे पास एक संपूर्ण Google search console मार्गदर्शिका(guide) है

जो आपको सिखाएगी कि इस अत्यंत शक्तिशाली टूल (immensely powerful tool)का उपयोग कैसे करें, जैसे कि pro

इसके बाद, आप अपनी प्रतियोगी(competitor) वेबसाइटों की निगरानी करना चाहेंगे। Google Search Console

आपको यह नहीं बताएगा कि आपसे ऊपर कौन और क्यों रैंकिंग कर रहा है।

उसके लिए, आपको SEMRush टूल की आवश्यकता होगी। यह आपको अपने प्रतिस्पर्धियों(competitors), उनके शीर्ष(top) कीवर्ड और

उन्हें पछाड़ने(outrank) के लिए आपको क्या करने की आवश्यकता है, इस बारे में विस्तृत जानकारी(detailed insights) देगा।

24.अपनी वेबसाइट के ट्रैफ़िक और उपयोगकर्ता जुड़ाव(users engagement) को ट्रैक करें

अब जब आपको कुछ ट्रैफ़िक मिलना शुरू हो गया है, तो आपको यह जानना होगा कि आपके उपयोगकर्ता(users) कहाँ से आ रहे हैं, और जब वे आपकी वेबसाइट पर होते हैं

तो वे क्या करते हैं। इस डेटा के बिना, आप अपनी रणनीति(strategy) का मूल्यांकन(evaluate) नहीं कर सकते हैं या अपनी अगली चाल की योजना नहीं बना सकते हैं।

यहीं पर Google Analytics आता है।

यह आपके वेबसाइट विज़िटर को ट्रैक करता है और आपकी वेबसाइट पर ट्रैफ़िक रिपोर्ट, सहभागिता(engagements) और

अन्य उपयोगकर्ता गतिविधि(users activity) देखने में आपकी सहायता करता है।

Google Analytics का उपयोग करने का सबसे बड़ा लाभ यह है कि आप देख सकते हैं कि आपके उपयोगकर्ता(users) आपकी वेबसाइट पर आने पर क्या कर रहे हैं।

इस डेटा को जानने से आपको यह जानने में मदद मिलती है कि क्या काम कर रहा है, और जो नहीं है उसे करना बंद कर दें।

25.ऑनलाइन मार्केटिंग और SEO सीखना जारी रखें

ये टिप्स आपके ब्लॉग ट्रैफ़िक को बढ़ाने और अधिक ग्राहक(subscribers) प्राप्त करने में आपकी सहायता करेंगे।

हालाँकि जैसे-जैसे आपका ब्लॉग बढ़ता है, आपको अपने व्यवसाय(business) को बढ़ाने के लिए और तरीके सीखने होंगे।

WPBeginner सबसे बड़ी वर्डप्रेस resource site है।

OptinMonster Blog एक और बेहतरीन संसाधन(resource) है जिसका आप अनुसरण(follow) करना चाहेंगे। OptinMonster बाजार पर

सबसे अच्छा रूपांतरण अनुकूलन(conversion optimization) सॉफ्टवेयर है।

उनका ब्लॉग वह जगह है जहां वे नियमित रूप से लेख प्रकाशित(publish articles) करते हैं

कि कैसे अधिक ट्रैफ़िक, ग्राहक(subscribers) और बिक्री(sales) प्राप्त करें।

हमें उम्मीद है कि इन युक्तियों(tips) ने आपको अपने ब्लॉग ट्रैफ़िक को बढ़ाने में मदद की है।

अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाये?

अब आप इस ब्लॉग को पढ़ने के बाद यह सवाल कभी नहीं पूछेंगे

ये ट्रिक आपके ब्लॉग का ट्रैफिक बढ़ाने में मदद करेगी

Earn Easy Money With CPA Marketing

10 Ways to do Affiliate Marketing without a Website

सीपीए मार्केटिंग क्या है?सीपीए मार्केटिंग क्या है?

Leave a Comment

Your email address will not be published.